राष्ट्रपति चुनावः हर पार्टी में लगी सेंध

देश के 15वें राष्ट्रपति के चुनाव के दौरान कई जगहों से क्रॉस वोटिंग की खबरें मिलीं। एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के सामने विपक्ष की तरफ से खड़े किए गए प्रत्याशी यशवंत सिन्हा ने सांसदों और विधायकों से अंतरात्मा की आवाज पर वोट देने की अपील की है। लगता है कि उनकी समर्थक पार्टियों के ही कुछ विधायकों ने इस पर अमल करके पाला बदल लिया है। कई विपक्षी दलों के विधायकों ने तो खुद बताया है कि उन्होंने द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में मतदान किया।

द्रौपदी मुर्मू के गृह राज्य ओडिशा से कांग्रेस विधायक मोहम्मद मुकीम ने दावा किया कि उन्होंने एनडीए उम्मीदवार को वोट दिया है। ये मेरा निजी फैसला है, मैंने अपने दिल की आवाज सुनी, जिसने मुझे अपनी मिट्टी के लिए कुछ करने को प्रेरित किया। इसी वजह से मैंने मुर्मू जी को वोट दिया। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि मुकीम पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष नहीं बनाए जाने के चलते पिछले कुछ समय से पार्टी से नाराज चल रहे हैं।

असम में भी कांग्रेस विधायकों के पाला बदलकर वोटिंग देने की सूचना है। एआईयूडीएफ के विधायक करीमुद्दीन बारभुइया ने दावा किया कि कांग्रेस के 20 से ज्यादा विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की है। नतीजों में आपको नंबर पता चल जाएगा। करीमुद्दीन के अनुसार कांग्रेस ने रविवार को वोटिंग से पहले जो बैठक बुलाई थी, उसमें सिर्फ 2-3 विधायक पहुंचे थे। सिर्फ जिला अध्यक्ष ही मीटिंग में पहुंचे थे। इससे साफ होता है कि कांग्रेस के विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की।

यूपी में सपा नेता अखिलेश के साथी रहे सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने राष्ट्रपति चुनाव में मुर्मू के पक्ष में मतदान का ऐलान किया। संभावना है कि उनके 6 में से 3 विधायक अलग रास्ता अपना सकते हैं। सिन्हा का समर्थन कर रही समाजवादी पार्टी ने दावा किया है कि सुभासपा के 3 विधायक उन्हें वोट करेंगे। हालांकि राजभर ने ऐसी आशंकाओं से इनकार किया और कहा कि दिल्ली की सत्ता का रास्ता लखनऊ से गुजरता है। द्रौपदी मुर्मू बड़े अंतर से चुनाव जीत रही हैं।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के नेता शिवपाल यादव ने कहा कि विपक्षी उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने नेताजी मुलायम सिंह यादव पर आरोप लगाया था कि वह आईएसआई एजेंट हैं। हम उन्हें कभी समर्थन नहीं कर सकते। सपा के बरेली से भोजीपुरा विधायक शहजील इस्लाम के भी क्रॉस वोटिंग करने की खबरें मीडिया में आ रही हैं। कहा जा रहा है कि उन्होंने यशवंत सिन्हा की बजाय एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट किया है।

उधर, गुजरात में शरद पवार की पार्टी एनसीपी के विधायक कंधाल एस. जडेजा ने दावा किया कि उन्होंने एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में वोट किया है। एनसीपी ने विपक्षी गठबंधन का सदस्य होने के नाते यशवंत सिन्हा को वोट देने की बात कही थी। मध्य प्रदेश से भी कांग्रेस विधायकों के क्रॉस वोटिंग करने की मीडिया में खबरें हैं। हालांकि विधायक हीरालाल अलावा ने दावा किया कि ऐसा कुछ नहीं है, जब मतगणना होगी तो सब पता चल जाएगा।

ऐसा नहीं है कि सिर्फ एनडीए प्रत्याशी मुर्मू के पक्ष में ही क्रॉस वोटिंग हो रही है, पश्चिम बंगाल से टीएमसी के वरिष्ठ नेताओं के हवाले से मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार भाजपा के कम से कम 9 नेताओं ने यशवंत सिन्हा के पक्ष में मतदान किया है। दावा है कि इनमें 7 विधायक और 2 सांसद शामिल हैं। भाजपा ने यहां क्रॉस वोटिंग के डर से अपने 69 विधायकों को चुनाव से पहले होटल में शिफ्ट कर दिया था।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.