राजस्थान के 8 शहरों की हवा हुई दूषित

दीपावली आने में अब भी 3 से 4 दिन का समय बाकी है, लेकिन राजस्थान में अभी से शहरों की हवा में जहर घुलना शुरू हो गया। जयपुर, जोधपुर, भिवाड़ी, कोटा समेत कई शहरों में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) स्तर 100 से 220 के बीच आ गया है। सबसे ज्यादा जोधपुर शहर की हवा प्रदूषित हो गई है, जहां एक्यूआई स्तर सप्ताहभर पहले जहां 100 से नीचे था, वह बढ़कर 200 के पार पहुंच गया है, जो प्रदेश के सबसे प्रदूषित शहरों में माने जाने वाले भिवाड़ी से भी ज्यादा खराब है।

एक सप्ताह पहले 12 अक्टूबर को जोधपुर का एक्यूआई लेवल 84 था, जो आज बढ़कर 220 पर पहुंच गया है। किसी भी शहर में 150 से ऊपर एक्यूआई रहने पर वह अस्थमा, सीओपीडी मरीजों के लिए परेशानी का कारण बन जाता है। इन मरीजों को ऐसी स्थिति में सांस लेने में तकलीफ महसूस होती है। जोधपुर के बाद प्रदेश का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर भिवाड़ी है, जहां का एक्यूआई लेवल 180 के करीब है। वहीं, जयपुर की हवा में प्रदूषण का स्तर 105 पर पहुंच गया है, जो ग्रीन जोन से बाहर निकलकर यलो जोन में आ गया है। जयपुर के अलावा अजमेर, कोटा और उदयपुर भी यलो जोन में आ गए हैं।

सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड की ओर से राजस्थान के 8 शहरों में हवा गुणवत्ता की जांच की जाती है। इन शहरों में जयपुर के अलावा जोधपुर, कोटा, उदयपुर, अलवर, भिवाड़ी, पाली और अजमेर है। इन 8 शहरों में केवल 2 ही ऐसे शहर है, जहां वर्तमान में स्थिति नियंत्रण में है। पाली और अलवर का एक्यूआई स्तर 100 से नीचे है। अलवर में 73 और अजमेर में 78 एक्यूआई लेवल है और ये ग्रीन जोन में है।

विशेषज्ञों ने आशंका जताई है कि दीपावली के दिन शहरों की स्थिति और बिगड़ सकती है। इस दिन सामान्य दिन से ज्यादा प्रदूषण रहेगा। दीपावली की रात और उसके अगले दिन जयपुर का एक्यूआई लेवल 150 के पार पहुंच सकता है। हालांकि थोड़ी राहत की बात ये है कि दीपावली पर मौसम पूरी तरह शुष्क और साफ रहेगा, जो अस्थमा और दिल के मरीजों के लिए के अच्छी खबर है। विशेषज्ञों के अनुसार अगर दीपावली के दिन आसमान में बादल छाने या धुंध जैसी स्थिति बनती है, तो धरती की सतह पर प्रदूषण ज्यादा रहता है।  

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.