भारत जीता, मिलेगा टेस्ट चैंपियनशिप में फायदा

भारत ने बांग्लादेश को चटगांव टेस्ट में 188 रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने बांग्लादेश से वनडे सीरीज में मिली हार का हिसाब कुछ हद तक तो चुकता कर लिया। भारत की यह इस साल टेस्ट में घऱ के बाहर पहली जीत है। इस एक जीत से भारत को कई फायदे हुए हैं। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने की उसकी उम्मीद और मजबूत हुई है। क्योंकि भारत पॉइंट्स टेबल में दूसरे स्थान पर आ गया है। अब उसे टेस्ट चैंपियनशिप की मौजूदा साइकिल में उसे 5 टेस्ट और खेलने हैं। अगर इनमें से 4 भी भारत जीतने में सफल रहा तो फाइनल का टिकट करीब-करीब पक्का ही हो जाएगा।

इसके अलावा भारत को एक और फायदा हुआ। उसे ऐसे तीन खिलाड़ी मिल गए, जो उसे विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचाने में बड़े काम आ सकते हैं। इनमें से दो तो ऐसे हैं, जिनकी वापसी पर सबकी नजर थी और इन दोनों ही खिलाड़ियों का प्रदर्शन शानदार रहा। ये हैं-चेतेश्वर पुजारा और कुलदीप यादव। पुजारा के लिए बीते दो साल बहुत अच्छे नहीं रहे। वो टेस्ट में रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे थे।

भारत के लिए कुलदीप यादव का कमबैक भी अहम होगा। कुलदीप ने करीब डेढ़ साल बाद टेस्ट टीम में कमबैक किया और उनकी यह वापसी दो वजहों से खास रही। पहली ये कि उन्हें बर्थडे के दिन ही चटगांव टेस्ट में खेलने का मौका मिला। दूसरा उन्होंने अपने ऑलराउंड खेल से भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई। कुलदीप ने चटगांव टेस्ट की पहली पारी में 40 रन जोड़े थे। वहीं, मैच की दोनों पारी मिलाकर उन्होंने कुल 8 विकेट भी लिए। इसमें पहली पारी में 5 विकेट शामिल हैं। इस टेस्ट मैच में कुलदीप ने मैच विनर गेंदबाज की तरह गेंदबाजी की।

रोहित शर्मा के चोटिल होने की वजह से शुभमन गिल ने चटगांव टेस्ट में कप्तान केएल राहुल के साथ पारी की शुरुआत की। पहली पारी में तो गिल खराब शॉट खेलकर 20 रन पर ही आउट हो गए. लेकिन, दूसरी पारी में उन्होंने शतक ठोक कसर पूरी कर दी। शुभमन ने 152 गेंद में 72 से अधिक के स्ट्राइक रेट से 110 रन बनाए। उनके बल्ले से 10 चौके और 3 छक्के निकले।

उन्होंने रोहित की कमी नहीं खलने दी। यह अलग बात है कि अगर दूसरे टेस्ट में रोहित की वापसी हुई तो उन्हें बाहर बैठना पड़ सकता है। हालांकि गिल ने मौके का पूरा फायदा उठाया और टीम मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं को यह संदेश जरूर दे दिया कि वो जरूरत पड़ने पर टेस्ट में भी ओपनिंग की जिम्मेदारी निभा सकते हैं। कुल मिलाकर एक ही टेस्ट में भारत को ऐसे तीन खिलाड़ी मिले, जो आगे उसके काम आएंगे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.